Khelbihar.Com

दुनिया का सबसे ताकतवर देश अमेरिका (USA) और ओमान (Oman) की टीमों ने एक बार फिर वनडे अंतरराष्ट्रीय टीमों का दर्जा हासिल कर लिया है. ये दोनों टीमें आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिवीजन -2 (ICC World Cricket League Division 2) में शानदार प्रदर्शन के दम पर यह दर्जा पाने में सफल रही हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट पर यह जानकारी दी गई है. अमेरिका को 15 साल बाद वनडे टीम (ODI Status) का दर्जा मिला है. इससे पहले उसे 2004 में यह दर्जा हासिल था. तब उसने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में हिस्सा लिया था.

आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिवीजन -2 में ओमान ने नामीबिया के खिलाफ रोमांचक मैच में जीत हासिल कर यह उपलब्धि हासिल की. ओमान ने अपने सभी मैच जीते हैं. उसने पापुआ न्यू गिनी के खिलाफ खेले गए मैच में ही जीत हासिल कर अपनी दावेदारी पुख्ता कर ली थी. इसके बाद उसने नामीबिया के खिलाफ महज दर्जा पाने की औपचारिकता पूरी की. 

अमेरिका ने हॉन्गकॉन्ग को हराकर वनडे टीम का दर्जा हासिल किया. उसने बुधवार को जेवियर मार्शल (100) के शतक की मदद से आठ विकेट पर 280 रन बनाए. हॉन्गकॉन्ग की टीम इसके जवाब में सात विकेट पर 196 रन ही बना सकी. अमेरिका और ओमान की टीमें इसके साथ ही लीग-2 में स्कॉटलैंड, नेपाल और संयुक्त अरब अमीरात के साथ आ गई हैं, जहां वे ढाई साल में कुल 36 वनडे मैच खेलेंगी. View image on Twitter

View image on Twitter

USA Cricket@usacricket

आईसीसी वर्ल्ड क्रिकेट लीग डिवीजन -2 में ओमान की टीम चार में से चार मैच जीत आठ अंकों के साथ पहले स्थान पर है. अमेरिका हार से शुरुआत करने के बावजूद वनडे दर्जा हासिल करने में कामयाब रहा. उसने कुल चार मैचों में से तीन में जीत हासिल की है. वह छह अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है. नामीबिया, हॉन्गकॉन्ग, कनाडा और पापुआ न्यू गिनी क्रमश: तीसरे, चौथे, पांचवें और छठे स्थान पर हैं.