बीसीसीआई ने चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन को दी पूर्ण मान्यता, सपने सच हुई, देखे खबर

Khelbihar.com

चंडीगढ़. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन मान्यता दे दी। इसके साथ ही37 साल की लंबी लड़ाई के बाद यूटी क्रिकेट एसोसिएशन ने आखिरकार अलग क्रिकेट एसोसिएशन का दर्जा हासिल कर ही लिया। 1982 में बनी यूटी क्रिकेट एसोसिएशन अब 2019-20 सीजन में पहली डोमेस्टिक टीम मैदान पर उतारेगी। देश को कपिल देव और युवराज सिंह जैसे वर्ल्ड चैम्पियनक्रिकेटर्स देने वाले चंडीगढ़ के टैलेंट को अब दूसरे राज्य से खेलने की जरूरत नहीं होगी।

बीसीसीआई ने शुक्रवार को चंडीगढ़ को क्रिकेट एसोसिएशन देने का फैसला कर लिया। अगले सीजन में चंडीगढ़ अंडर-14 के साथ अंडर-16, अंडर-19 और अंडर-23 क्रिकेट टीमों को मैदान में उतारेगा। दो दिन में यह भी बात साफ हो जाएगी कि मौजूदा सीजन में चंडीगढ़ को रणजी टीम खिलाने का मौका मिलेगा या नहीं।

‘आज का दिन सपना सच होने जैसा’

यूटीसीए के अध्यक्ष संजय टंडन ने कहा, ‘ये हर उस क्रिकेटर की जीत है, जो चंडीगढ़ का रहने वाला है या फिर यहां से खेलता है। मैं पूरे चंडीगढ़ को इस कामयाबी का श्रेय देता हूं। आज का दिन सपना सच होने जैसा है। हम इस सीजन में रणजी ट्रॉफी खेलेंगे या नहीं इसकी जानकारी अभी नहीं दी गई।बोर्ड एक या दो दिन में अपनी स्थिति साफकर देगा। हमारी पूरी कोशिश है कि इस सीजन में अपनी रणजी टीम भी उतारें।’

अब अंडर-14,16, 19 और अंडर-23 की अपनी टीम बनेगी: सिटी क्रिकेटर्स को नए सीजन में नया मौका मिलेगा और अंडर-14 से लेकर सभी टूर्नामेंट में यहां की टीम खेलेगी। अंडर-14 बॉयज एंड गर्ल्स टीम के साथ-साथ अंडर-16 और अंडर-19 टीम भी यहां की टीमें खेलेंगी। अंडर-23 क्रिकेट फॉर सीके नायडू ट्रॉफी में भी सिटी की टीम मुकाबला करेगी। अभी रणजी ट्रॉफी में चंडीगढ़ की टीम खेलेगी या नहीं इस पर स्थिति साफ नहीं है। 

अब टीम के सभी प्लेयर यहीं से होंगे: पहले चंडीगढ़ से एक या दो प्लेयर ही स्टेट टीम में जगह बना पाता था। यहां से क्रिकेटर्स को या तो चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन (हरियाणा) से खेलना होता था या फिर चंडीगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन (पंजाब) की टीम से। पंजाब-हरियाणा हर स्टेट के खिलाड़ियों के साथ टीम बनाते थे। इसमें एक या दो प्लेयर ही चंडीगढ़ का खेलता था। लेकिन अब चंडीगढ़ की अपनी टीम होगी और 16 के 16 प्लेयर्स शहर के ही होंगे।

हर स्कूल में क्रिकेट टीम, अब छाने का पूरा मौका: सिटी ब्यूटीफुल के लगभग हर स्कूल की अपनी टीम है और यहां पर हर स्कूल के पास अपना ग्राउंड भी है। सेक्टर-16 का इंटरनेशनल स्टेडियम भी यहां पर मौजूद है और यहां पर सैकड़ों बच्चे खेलते हैं। अब उन्हें पूरा मौका मिलेगा और वे अपनी प्रतिभा को दुनिय को दिखा सकेंगे।