पटना, 26 मई। बिहार में ड्रैगन बोट खेल को बढ़ाने के उद्देश्य से कृषि एजुकेशनल एंड हेल्थ सेवा संस्थान (केईएएचएसएस) ने अपना हाथ बढ़ाया है और संघ द्वारा टीम स्पांसर बनने के प्रस्ताव पर अपनी सहमति प्रदान कर दी है। ड्रैगन बोट फेडरेशन ऑफ इंडिया (डीबीएफआई) के लीगल एडवाइजरी कमेटी के चेयरमैन तथा पटना उच्च न्यायालय के अधिवक्ता संजीव कुमार मिश्र और कृषि एजुकेशनल एंड हेल्थ सेवा संस्थान (केईएएचएसएस) के सचिव विंद्यांचल पाठक के बीच हुई वार्ता के बाद दोनों के बीच बिहार टीम को स्पांसर करने को लेकर निर्णय लिया गया।

उक्त बातों की जानकारी देते हुए बिहार ड्रैगन बोर्ट एसोसिएशन के सचिव दीपक प्रकाश रंजन ने बताया कि ड्रैगन फेडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में झारखंड के तिलैया डैम के जवाहर घाट जलाशय में आगामी 16 जून से आयोजित होने वाली तीन दिवसीय 11वीं सीनियर राष्ट्रीय ड्रैगन बोट रेसिंग चैंपियनशिप (महिला व पुरुष) में भाग लेने वाली बिहार टीम को सफाई व स्वच्छता के क्षेत्र की राष्ट्रीय स्वयंसेवी संस्था केईएएचएसएस द्वारा बिहार टीम को किट उपलब्ध कराया गया है।

सचिव दीपक प्रकाश रंजन ने केईएएचएसएस को धन्यवाद देते हुए कहा कि संस्थान आगे आने से बिहार के खिलाड़ियों का मनोबल ऊंचा हुआ है। बिहार की टीम इस राष्ट्रीय चैंपियनशिप में अपना परचम लहराने का प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही बिहार टीम की घोषणा कर दी जायेगी और 15 जून को टीम पटना से कोडरमा के लिए रवाना होगी।